सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना

महावशीकरण सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना का प्रयोग कई कारणों जैसे उच्चाटन, वशीकरण और स्पंदन के लिए किया जाता है| इस मंत्र साधना से नव ग्रहों में मौजूद किसी भी नकारात्मक योग को दूर किया जा सकता है| सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना के द्वारा सर्वजन कवच को सिद्ध किया जाता है|

इस तरह से सिद्ध किया गया सर्वजन सिद्धि कवच गरीबी, दुःख और अशांति को जीवन से दूर करता है| जीवन में सम्पूर्ण समृद्धि और शांति के लिए सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना बहुत उपयोगी होती है|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना
सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना से सिद्ध सर्वजन कवच धारण करने से जातक के अन्दर अद्भुत सम्मोहन शक्ति आ जाती है| इसे धारण करने वाला व्यक्ति किसी भी व्यक्ति को अपनी इक्छा के अनुरूप प्रभावित कर सकता है|

अगर जातक महालक्ष्मी की कृपा प्राप्त करना चाहता है तो उसे अष्ट लक्ष्मी कवच में मिले सर्व सिद्धि कवच को धारण करना चाहिए| ऐसे जातक के घर में कभी दरिद्रता नही आ सकती| उसका घर हमेशा धन धान्य से भरा रहता है और वह जीवन के सभी भौतिक सुखों का लाभ उठाता है|

अगर जातक दूसरों के द्वारा किये गए तांत्रिक टोटकों से परेशान है तो उसे तंत्र रक्षा कवच के साथ सर्वजन सिद्धि कवच धारण करना चाहिए| इस तरह का सिद्धि कवच धारण करने पर धारण करने वाले पर तंत्र मंत्र का कोई प्रभाव नही पड़ता है| इस तरह सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना से सिद्ध कवच सब तरह की नकात्मक शक्तियों से रक्षा करता है|

यह रक्षा कवच दुश्मन की शक्ति को भी नष्ट कर देता है| इससे कोर्ट कचहरी के मामलों में भी आश्चर्यजनक सफलता प्राप्त होती है| इसको धारण करने वाला व्यक्ति जीवन के हर क्षेत्र में सफलता अर्जित करता है|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना के द्वारा सर्व सिद्धि कवच को धारण करने में कोई विशेष विधि विधान की आवश्यकता नही होती| क्योंकि इसे बनाते समय ही सभी उचित नियमों को पालन किया जाता है ताकि यह जीवन के सभी क्षेत्रों में समान रूप से प्रभावी हो|

इस कवच में मौजूद शक्तियां जातक की हर तरह से मदद करने के लिए तत्पर होती हैं| इसे जातक बिना किसी शंकोच के धारण कर सकता है|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना का लोहट मंत्र

इस मंत्र की साधना के लिए मोहनी एकादशी या शुक्रवार का दिन सही होता है| यह साधना निर्वस्त्र होकर की जाती है| निर्वस्त्र होने के बाद एक कांसे की थाली में पूजन की सामग्री लेकर पंचोपचार से पूजा संपन्न करें| पूजा के दौरान उस व्यक्ति का स्मरण करें जिस पर आप अपना वशीकरण करना चाहते हैं|

इस विधि का मंत्र इस प्रकार है –

मंत्र-

नमोहः भगवतेहः  कामदेवायः सर्वजनः प्रियायः सर्वजनः सम्मोहनानः ज्वल्  ज्वल् प्रज्वलः प्रज्वलः हनः हनः वद वद तप तप सम्मोहायः सम्मोहायः सर्वजनः मे वशं कुरु कुरु स्वाहः

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना का लोहट मंत्र की विधि इस प्रकार है-

इस साधना को करने के लिए कोई शुक्रवार या मोहनी एकादशी के दिन का चयन करना चाहिए| इस दिन सुबह ब्रह्म मुर्हत में उठें और स्नान आदि से निपटने के बाद सफ़ेद वस्त्र धारण करें| अब एक एकांत जगह पर आसन लगाकर बैठ जाएँ और ऊपर दिए मंत्र का 21000 बार उच्चारण करें| मंच मेवा हवन सामग्री और देशी घी से हवन में आहुति दें और विधि पूर्वक गणेश जी की पूजा भी करें|

जब पूजा और मंत्र उच्चारण पूरा हो जाए तो हवन के दशांश को किसी ब्राह्मण या पांच कन्याओं को दें| पूजा के बाद ब्राह्मण को भोजन कराने से भी उत्तम परिणाम प्राप्त होता है| जब पूजा पूरी हो जाए तो कवच को धारण कर लें| ये कवच आपके लिए वशीकरण का कार्य करने लगेगा और आपको फसलता मिलना शुरू हो जायेगी|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना को इस प्रकार भी किया जा सकता है –

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना को करने के लिए सुबह जल्दी उठ जाएँ और स्नान आदि से निपटने के बाद लाल रंग के कपड़े पहने और लाल रंग के आसन पर उत्तर या पूर्व की तरह मुख करके बैठ जाएँ|

अब अपने हाथ में रुद्राक्ष की माला के साथ यहाँ दिए गए मंत्र का उच्चारण 500 बार करें| मंत्र इस प्रकार है – म्रोँ ड़ोँ स्वाहः|

मंत्र के उच्चारण के दौरान जिस भी व्यक्ति को आप सम्मोहित करना चाहते हैं उसका स्मरण करें| मंत्र का उच्चारण 500 बार पूरा होने पर इसका प्रभाव शुरू हो जाएगा| आप यह देखकर आश्चर्यचकित रह जायेंगे की जिसे आपको वशीभूत किया है वह आपके अनुसार ही कार्य कर रहा है|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना इस प्रकार भी की जा सकती है| किसी शुक्रवार को रात में नहा लें और फिर पीले वस्त्र धारण कर लें| अब यहाँ दिए गए मंत्र का उच्चारण पीले रंग की हकीक की माला से करें| इस माला के साथ मंत्र का उच्चारण 1000 बार करें और फिर जिस भी व्यक्ति पर आप अपना वशीकरण करना चाहते हैं उसका स्मरण करें|

मंत्र इस प्रकार है – “ओम चिटि चिटि चामुंडै  कालीकाः काली महाकाली  अमुकं मे वशमानयः  स्वाहा”|

‘अमुक’ के स्थान पर जिस व्यक्ति पर आप वशीकरण करना चाहते हैं उसका नाम लें|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना के दौरान इस मंत्र का 1000 जब करते हुए आहुति भी दी जाती है और गुरु मंत्र का जाप किया जाता है| इस तरह से सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना 5 या 7 दिन में पूरी की जा सकती है| साधना के पूर्ण होते ही आपको उस व्यक्ति पर वशीकरण का स्पष्ट प्रभाव दिखाई देने लगेगा|

सर्वजन वशीकरण मंत्र साधना के अंतर्गत कामदेव सर्वजन आकर्षण इस प्रकार किया जा सकता है –

इस साधना को शुक्रवार की रात को करना चाहिए| इस रात में स्नान करे लें और उत्तर दिशा की तरह मुख करके लाल रंग का आसन लगाकर बैठ जायें| अपने सामने एक बाजोट रखें और इस पर लाल वस्त्र बिछा दें| अब एक भोजपत्र लें और इस पर कुमकुम से क्लीं बना दें| इसे आसन पर स्थापित करें और थोड़े से चावल लेकर इस यन्त्र के सामने एक ठेरी बना दें|

इस ठेरी पर तिल के तेल का दीपक जला दें| अब गुरु और भगवान गणेश को प्रणाम करते हुए मूल मंत्र का उच्चारण मुंगे की माला से 51 बार करें| इस साधना को लगातार 5 बार करें|

मंत्र इस प्रकार है – ॐ क्लीं कामदेवायः सर्वजनः आकर्षणनः कुरु कुरु स्वाहः

इस तरह से पूजा और मंत्रोच्चारण पूरा होने पर चावल और कपड़ा नदी में विसर्जित कर दें| अब क्लीं लिखा हुआ भोजपत्र लें और इसे चांदी के ताबीज में रख लें| साधना के अंतिम दिन शुद्ध देशी घी की 108 बार मंत्र का उच्चारण करते हुए आहुति दें और ताबीज को धारण कर लें|

 

 

[Total: 0    Average: 0/5]
WhatsApp chat